image

(चित्र – सांकेतिक)
बाबा वैंगा ने की थी भविष्यवाणी की वर्ष 3797 में पृथ्वी खत्म हो जाएगी

नास्त्रेदमस की परंपरा में एक और भविष्यवक्ता का नाम सामने आया है वांजेलिया पांडेवा डिमित्रोवा का. इस नेत्रहीन बुल्गारियाई भविष्यदृष्टा को बाबा वैंगा के नाम से भी जाना जाता है. इनकी कुछ बड़ी भविष्यवाणियों में एक यह भी है कि 2016 में यूरोप पर विशाल मुस्लिम आक्रमण होगा। अपनी मौत के बाद की भी हजारों भविष्यवाणियां करने वाली वैंगा की 1996 में मृत्यु हो चुकी है. लेकिन उनके द्वारा की गई सबसे बड़ी वैश्विक आपदाओं की भविष्यवाणियों में से 2004 की सुनामी और 9/11 हमले को देखे जा चुका है.

अविश्वासी औऱ नास्तिक लोगों का ध्यान भविष्यवाणी जैसी चीजों पर शायद न जाय. अगर बात किसी ज्योतिष की हो तो फिर इसकी संभावना एकदम खत्म हो जाती है. अगर आप तर्क संगत तरीके से सोचते हैं और प्लूटो के चश्में से दुनिया के भविष्य की कल्पना करते हैं तो यह आपको समझ नहीं आएगा. हां, हम सभी को बचपन से ही बताया गया है कि फ्रांसीसी भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस ने हिटलर, नेपोलियन समेत तमाम बड़ी हस्तियों के उदय की सही-सही भविष्यवाणी कर दी थी. और इस सप्ताह हफिंगटन पोस्ट द्वारा बताया जा रहा है कि नास्त्रेदमस की एक उत्तराधिकारी वांजेलिया पांडेवा डिमित्रोवा नाम की महिला हैं. इन नेत्रहीन बुल्गारियाई भविष्यदृष्टा को बाबा वैंगा के नाम से भी जाना जाता है जिन्होंने 10 भयानक भविष्यवाणियां की हैं. इनमें 2016 में यूरोप में होने वाले विशाल मुस्लिम आक्रमण की भविष्यवाणी भी शामिल है.

कौन थीं (स्वर्गीय) बाबा वैंगा?

यह ऐसी कहानी है जिसपर संभवत: बॉलीवुड में लोगों ने काम करना शुरू कर दिया गया होगा. स्थानीय किंवदंती है कि बाबा वैंगा या बाल्कन की नास्त्रेदमस ने पहली बार भविष्य देखने की क्षमता तब प्राप्त की थी जब 12 साल की उम्र में एक भयानक तूफान में उसकी आंखों की रोशनी चली गई थी. 16 साल की उम्र में ही उसने भविष्यवाणी करनी शुरू कर दी और “30 साल की उम्र पूरी होने पर पहले से ही जानने की उसकी शक्तियां और मजबूत हो गईं.” 1952 की शरद ऋतु में यह महिला भविष्यवक्ता काफी मुसीबत में पड़ गई जब उसने कहा कि जोसेफ स्टालिन को पाताल लोक में जाना होगा. इस भविष्यवाणी के परिणामस्वरूप उसे जेल में बंद कर दिया गया, हालांकि वो जल्द ही बाहर आ गईं.

वर्ष 1967 में उन्हें ‘सरकारी अधिकारी’ के रूप में नियुक्त किया गया बावजूद इसके कि कम्युनिस्ट शासन में तमाम ऐसे लोग थे वेंगा बाबा को चुड़ैल समझते थे. कहानी यह भी है कि एक दिन हिटलर उनसे मिलने पहुंचा था लेकिन बाद में वो बहुत परेशान हो गया था. अपनी मौत के बाद की भी हजारों भविष्यवाणियां करने वाली वैंगा की अंततः 1996 में मृत्यु हो गई. लेकिन उनके द्वारा की गई सबसे बड़ी वैश्विक आपदाओं की भविष्यवाणियों के संदर्भ में 2004 की सुनामी और 9/11 हमले को देखा जाता है. 2016 में क्या हो सकता है? अपनी मौत के 20 साल बाद यानी वर्ष 2016 की अपनी भविष्यवाणी के चलते बाबा वैंगा वापस खबरों में आ गई हैं. क्योंकि उन्होंने कहा था कि 2016 वो वर्ष होगा जब, “मुसलमानों द्वारा यूरोप पर आक्रमण किया जाएगा.”

यूरोप और पश्चिम एशिया का राजनीतिक माहौल स्वाभाविक रूप से इस चिंता को बल दे रहा है. अप्रवासी संकट के चलते अभूतपूर्व रूप से यूरोप पर काफी दबाव है और विभिन्न देशों द्वारा इस मुद्दे पर अलग-अलग राय रखने के चलते इस संघ में दरारें फैलती जा रही हैं. तो निकट भविष्य के लिए वैंगा की अन्य प्रमुख भविष्यवाणी क्या हैं? इनमें 2018 में चीन दुनिया।की सर्वोच्च ‘महाशक्ति’ बन जाएगा. उनके मुताबिक इसी साल एक अंतरिक्ष यान वीनस पर ‘ऊर्जा के एक नए रूप’ की खोज करेगा.

क्यों लोग इनसे आकर्षित हुए?

उन पर विश्वास करने वालों का दावा है कि वैंगा ने पिछले दशकों की कुछ प्रमुख वैश्विक घटनाओं की भविष्यवाणी की थीः

भारतीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की हत्या.

कुस्क परमाणु पनडुब्बी आपदा ग्लोबल वॉर्मिंग

9/11: “डरावना, भयावह! अमेरिकी भाइयों पर स्टील पक्षियों के द्वारा हमला किए जाने के बाद वह गिर जाएंगे.”

2004 की सुनामी: “एक विशाल लहर एक बड़े तट को घेर लेगी. जिसमें लोगों, कस्बों के साथ सबकुछ पानी के नीचे गायब हो जाएगा. सब कुछ सिर्फ बर्फ की तरह पिघल जाएगा.”

एक “विशाल मुस्लिम युद्ध”

बराक ओबामा का चुनाव: उन्होंने कहा था कि अमेरिका का 44वां राष्ट्रपति एक अफ्रीकी अमेरिकी होगा. उसने यह भी कहा कि वह आखिरी अमेरिकी राष्ट्रपति होगा.

द्वितीय विश्व युद्ध

ज़ार बोरिस III की मृत्यु की तारीख चेकोस्लोवाकिया का विघटन सोवियत संघ का टूटना यूगोस्लाविया का टूटना

पूर्व और पश्चिम जर्मनी का एकीकरण

बोरिस येल्तसिन का चुनाव

चेर्नोबिल आपदा

स्टालिन की मौत की तारीख

सीरिया में संघर्ष

क्रीमिया का अलग होना

आपको उलझन में क्यों होना चाहिए विशेषज्ञों’ ने गणना की है कि उसकी 68 फीसदी भविष्यवाणी सच साबित हुई हैं. लेकिन इन भविष्यवाणियों के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि इनका कोई आधिकारिक स्रोत नहीं है. जहां नास्त्रेदमस ने अपनी भविष्यवाणियों को लिखित रूप में छोड़ा था, बाबा वैंगा ने ऐसा नहीं किया. यही कारण है कि उन्होंने शायद जो कहा था घटनाओं के बाद उसके अर्थ बदलते रहे. शायद यह संभव नहीं लेकिन संभावित है. जैसे चीन का फुसफुसाने वाला खेल हो रहा है.

अगर फिर भी आप जानना चाहते हैं कि भविष्य के बारे में वो क्या सोचती थीं?

2016: मुसलमानों का यूरोप पर आक्रमण

2018: अमेरिका को पीछे करते हुए चीन विश्व की महाशक्ति बन जाएगा

2023: पृथ्वी की कक्षा में बड़े बदलाव होंगे

2025-2028: भुखमरी खत्म हो जाएगी

2025: युद्ध के परिणामस्वरूप यूरोप की जनसंख्या गायब हो जाएगी

2028: ऊर्जा के अन्य स्रोतों को खोजने की उम्मीद के साथ वीनस जैसे अन्य ग्रहों की यात्रा का प्रयास होगा

2033: ध्रुवों के पिघलने से जल स्तर में वृद्धि

2045: हिमच्छादित चोटियों का अस्तित्व ही नहीं होगा

2076: साम्यवाद वापस आ जाएगा

2084: प्रकृति का पुनर्जन्म

2100: ग्रह के अंधेरे पक्ष को रोशनी देते एक नए सूर्य का जन्म.

2130: हम एलियंस के साथ संपर्क कर सकते हैं

2170: वैश्विक सूखा

2262: मंगल ग्रह को एक धूमकेतु का खतरा

2304: मनुष्य समय की यात्रा करने में सक्षम हो जाएगा

2480: दो कृत्रिम सूर्यों के टकराने से पृथ्वी पर अंधेरा हो जाएगा

3005: मंगल ग्रह पर युद्ध से ग्रह की गति बदल जाएगी

3010: चंद्रमा पर एक धूमकेतु के पहुंचने से पृथ्वी पत्थरों और धूल से घिर जाएगी

3797: पृथ्वी खत्म हो जाएगी लेकिन मानवजाति इतनी तरक्की कर चुकी होगी कि एक नई सौर प्रणाली के पास चली जाएगी

4674: मानव जाति एलियंस के साथ मिल जाएगी

5079: ब्रह्मांड खत्म हो जाएगा

तो आप क्या सोचते हैं?

(इन भविष्यवाणियों को सुनकर भयानक भविष्य के लिए खुद को तैयार करने से पहले बस यह याद रखें: बाबा वैंगा ने नवंबर 2010 से अक्टूबर 2014 तक न्यूक्लियर विश्व युद्ध की भविष्यवाणी की थी. इतना ही नहीं उन्होंने संभवत: बराक ओबामा, निकोलस सरकोजी, व्लादिमीर पुतिन और गॉर्डन ब्राउन जैसे चार राष्ट्र प्रमुखों की हत्या के प्रयासों के बारे में भी कहा था. ये सभी ठीक हैं.)

साभार – कैच न्यूज़

Advertisements