बीएचयू (BHU) में हॉस्टल न मिल पाने की वजह से छात्राएं परेशान हैं।

Image result for bhu girls hostel
ऐसी दो दर्जन से ज्यादा छात्राएं हैं, जो विभागों से संकाय तक के चक्कर लगा रही हैं। परेशान छात्राओं ने संकायाध्यक्ष को पत्र लिखकर छात्रावास में कमरे आवंटित कराने की गुहार लगाई है। उधर, संकायाध्यक्ष ने इस मामले के निस्तारण के लिए चीफ प्राक्टर प्रो. रोयाना सिंह से बात कर छात्राओं की सूची सौंपी है।

बीएचयू परिसर (BHU Campus) में छात्राओं के सभी हॉस्टल (BHU Girl’s Hostel) आवंटित हो चुके हैं। सूत्रों की माने तो कुछ छात्रावासों में दो-चार कमरे खाली हैं, जो विशेषाधिकार के तहत आवंटित किए जाते हैं। वहीं, छात्रावास के लिए जो छात्राएं परेशान हैं, उनमें 50 फीसदी छात्राएं समाज विज्ञान संकाय की है।

इन छात्राओं ने समाज विज्ञान संकायाध्यक्ष को पत्र लिखकर कमरा दिलाने की मांग की है। छात्राओं के पत्र के आधार पर संकाय की ओर से चीफ प्राक्टर कार्यालय को सूची भेजी गई है।

अब त्रिवेणी, महिला महाविद्यालय सहित छात्रावासों में खाली कमरों की सूची तैयार कराई जा रही है। इसके बाद अधिकारियों की अनुमति से छात्राओं को कमरे आवंटित किए जा सकते हैं।

अगर आप भी लिखते है तो हमें ज़रूर भेजे, हमारा पता है:

साहित्य: editor_team@literatureinindia.com

समाचार: news@literatureinindia.com

जानकारी/सुझाव: adteam@literatureinindia.com

हमारे प्रयास में अपना सहयोग अवश्य दें, फेसबुक पर अथवा ट्विटर पर हमसे जुड़ें