अंबारी/मार्टीनगंज। बूढनपुर-अंबारी मुख्य मार्ग पर स्थित अहरौला थाना क्षेत्र के कालीमठ के पास शनिवार की शाम अनियंत्रित ट्रक से कुचलकर बाइक सवार दंपति की मौत हो गई। बाइक चलाते समय युवक ने हेलमेट नहीं पहना था।

Image result for accident

परिवार के लोग लाश लेकर माहुल पुलिस चौकी पहुंचे। इसके बाद दोनों की लाश लेकर घर चले गए। रविवार की सुबह साढ़े आठ बजे आर्थिक सहायता की मांग को लेकर लाश दीदारगंज थाने के सिसवारा मोड़ पर रखकर जाम लगा दिया।

जाम लगने की सूचना पर एसडीएम मार्टीनगंज पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और आश्वासन देकर साढ़े तीन घंटे बाद जाम समाप्त करा दिया। इस दौरान दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई थी।

मृतकों में रमेश राजभर (35) पुत्र दलसिंगार और उसकी पत्नी पुष्पा देवी (32) शामिल हैं। रमेश दीदारगंज थाना क्षेत्र के सिसवारा गांव का निवासी था। दो भाइयों में बड़ा रमेश घर पर रहता था।

उसकी पत्नी पुष्पा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता थी। वह दो बच्चों का पिता था। उसका बेटा दिव्यांश (5) और बेटी महक (3) है। पुष्पा का मायका अहरौला थाना क्षेत्र के माहुल चकलतीफपुर गांव में था। रमेश शनिवार को अपनी पत्नी को लेकर ससुराल गया था। शाम साढ़े तीन बजे घर लौट रहा था।

घर के लोग रमेश और पुष्पा की लाश लेकर माहुल पुलिस चौकी पर गए, लेकिन पुलिस कोई कार्रवाई नहीं की। जिससे नाराज रविवार की सुबह साढ़े आठ बजे परिवार के लोग दोनों की लाश लेकर दीदारगंज थाने के सिसवारा मोड़ पहुंचे और सड़क जाम कर दिया।

सूचना मिलने पर एसडीएम मार्टीनगंज, सीओ फूलपुर, एसओ दीदारगंज आदि पहुंचे। एसडीएम मार्टीनगंज आशाराम यादव के आश्वासन पर साढ़े तीन घंटे बाद दोपहर के बारह बजे के करीब जाम समाप्त हो गया। सीओ फूलपुर संतोष सिंह ने बताया कि लाश पीएम को भेजवा दी गई। घटना के संबंध में अहरौला थाने में रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अगर आप भी लिखते है तो हमें ज़रूर भेजे, हमारा पता है:

साहित्य: editor_team@literatureinindia.com

समाचार: news@literatureinindia.com

जानकारी/सुझाव: adteam@literatureinindia.com

हमारे प्रयास में अपना सहयोग अवश्य दें, फेसबुक पर अथवा ट्विटर पर हमसे जुड़ें