पद्मावती फिल्म से उठा बवाल अभी थमा भी नहीं था कि प्रतिष्ठित न्यूज़ डिबेट ‘ताल ठोक के‘ के एंकर रोहित सरदाना के एक ट्वीट ने नई बहस को जन्म दे दिया है| सोशल मीडिया से लेकर न्यूज डिबेट में लोग तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं|

 

रोहित सरदाना ने ट्वीट करके यह जानकारी दी कि उन्हें और उनके परिवार को फोन पर धमकियाँ दी जा रही है| उन्होंने ट्वीट के माध्यम से यूपी पुलिस को पूरे मामले से अवगत करा दिया है लेकिन फ़िलहाल यूपी पुलिस लिखित प्रार्थनापत्र प्राप्त न होने का हवाला देते हुए कार्यवाही से बच रही है|

 

Viral Tweet of Samajwadi party leader abusing Rohit Sardana

हाल ही में बैंगलौर में शिया समुदाय के लोगों ने प्रदर्शन के दौरान इण्डिया टुडे के कार्यालय में तोड़-फोड़ की थी|

इसी कड़ी में ट्विटर पर सत्यम त्रिपाठी का एक ट्वीट वायरल हो गया जिसमें यह साफ़-साफ़ दिख रहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी नेता तक़ी अब्बास आब्दी ने फ़ेसबुक पर रोहित सरदाना के मामले में आपत्तिजनक टिप्पणी की है|

जब हमने समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता जूही सिंह से पूछा कि इस मामले में समाजवादी पार्टी का क्या स्टैंड है तो उन्होंने साफ़-साफ़ शब्दों में कहा कि हर व्यक्ति जो किसी को भी सोशल मीडिया पर धमकी देता हो, गाली देता हो, प्रताड़ना देता हो; वह दोषी है और सभी पर करवाई होनी चाहिए |

juhiesinghSP

इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी नसीहत दी कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को राष्ट्रीय अध्यक्ष से सीख लेनी चाहिए और इस तरह की टिप्पणी से बचना चाहिए| उन्होंने आगे यह भी कहा कि पार्टी की तरफ़ से सख्त कार्यवाही की जाएगी|

JuhieSinghSP2

लिटरेचर इन इंडिया न्यूज़ डेस्क

अगर आप भी लिखते है तो हमें ज़रूर भेजे, हमारा पता है:

साहित्य: editor_team@literatureinindia.com

समाचार: news@literatureinindia.com

जानकारी/सुझाव: adteam@literatureinindia.com

हमारे प्रयास में अपना सहयोग अवश्य दें, फेसबुक पर अथवा ट्विटर पर हमसे जुड़ें