उल्लास बिखेरता है आदिवासियों का घोटिया आम्बा मेला – कल्पना डिण्डोर

जंगलों में दी जाती है फागुनोत्सव को विदाई, गुजरात, मध्यप्रदेश और राजस्थान के आदिवासी परिवारों का त्रिवेणी संगम   - कल्पना डिण्डोर जिला  सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी, बाँसवाड़ा बांसवाड़ा जिले में जनजातीय परंपराओं और लोक लहरियों का प्रतिनिधित्व करने वाले मेलों का उल्लास साल भर बरसता रहता है। इन सभी प्रकार के मेलों की पूर्णाहुति... Continue Reading →

Advertisements

A WordPress.com Website.

Up ↑