खुलासा: कांग्रेस की साजिश है मंदसौर किसान आन्दोलन, पूरी प्लानिंग के तहत हुआ उपद्रव

भारत के दिल में बसा मध्यप्रदेश इन दिनों सुलग रहा है| शिवराज सरकार पर संकट के बादल छाये हुए है, कारण है उग्र हो छुआ किसान आन्दोलन| उग्र हो चुके आन्दोलन को शांत करने हेतु मध्यप्रदेश पुलिस और सीआरपीएफ़ को तथाकथित रूप से गोली चलानी पड़ी जिसमे ६ किसानो की मौत हो गयी| मध्यप्रदेश आखिर... Continue Reading →

Advertisements

लिंगभेदी मानसिकता की वजह से कम हो रही हैं बेटियां

  हम एक लिंगभेदी मानसिकता वाले समाज हैं जहां लड़कों और लड़कियों में फर्क किया जाता है।यहाँ लड़की होकर पैदा होना आसान नहीं है और पैदा होने के बाद एक औरत के रूप में जिंदा रखना  भी उतना ही चुनौतीपूर्ण है। यहां बेटी पैदा होने पर अच्छे खासे पढ़े लिखे लोगों की ख़ुशी काफूर हो... Continue Reading →

लगभग 5000 कत्लेआम को सब लोग ऑपरेशन ब्लू स्टार के नाम से जानते हैं

लगभग 5000 सिख महिलाएं ,बच्चों ,बूढ़े , जवान और सेवादारों के कत्लेआम को आज 33 साल हो गए। इसे आप सब लोग ऑपरेशन ब्लू स्टार के नाम से जानते हैं। इंदिरा गांधी की सरकार ने खालिस्तान समर्थक जरनैल सिंह भिंडरावाले और उनके समर्थकों के खिलाफ ये ऑपरेशन चलाया था, जिसमें उनके 200 लोगों ने सरेंडर... Continue Reading →

उत्तरप्रदेश पुलिस संवेदना, साहस एवं दायित्व के सफ़र में गंभीर

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री पद को सँभालने के बाद ही जिस प्रकार योगी आदित्यनाथ ताबड़तोड़ फैसले कर रहे थे उससे यह साफ़ ज़ाहिर हो गया था कि मौजूदा योगी सरकार महिला सुरक्षा हेतु अति गंभीर है| इसी क्रम में योगी सरकार ने जैसे ही 'एंटी-रोमियो स्क्वाड' का गठन किया, ठीक उसी वक़्त उत्तरप्रदेश पुलिस की जिम्मेदारियां... Continue Reading →

लाशों की बस्ती से राष्ट्रपति को 4500 ख़त!

"शमा को क्या पता, परवाना क्यों जलता है, वो सोचती है कोई भुला-भटका राहगीर है |” प्रणाम, बात सन 2004-2005 की है । मेरे गाँव - तेम्हुआ  में मेरे घर से तक़रीबन  500-600 मीटर की दूरी पर ग़रीबों की बस्ती है- थलही और बिरती । यहाँ  के बाशिंदे लगभग भूमिहीन है । रोज़ दूसरे के... Continue Reading →

सेक्स की लत से लड़ते शख़्स की कहानी

एक ऐसे शख़्स की कहानी जो सेक्स की लत से भयानक तरीके से पीड़ित है. वह इस कदर बेकाबू है कि कहानी पढ़ते हुए आप ख़ुद हैरान रह जाएंगे. पढ़ें, उसी शख़्स की ज़ुबानी यह कहानी- मैं 10 साल की उम्र से ही कई बुरी लतों से पीड़ित था. अगर आप ड्रग की लत से... Continue Reading →

एक इंजीनियर की उसकी कविता के लिए जनून(युवा रचनाकार दिनेश गुप्ता जी का दैनिक जागरण द्वारा साक्षात्कार)

शब्द नए चुनकर गीत नया हर बार लिखूं मैं उन दो आंखों में अपना सारा संसार लिखूं मैं विरह की वेदना या मिलन की झंकार लिखूं मैं कैसे चंद लफ्जों में सारा प्यार लिखूं मैं। ये पंक्तियां हैं कवि दिनेश गुप्ता की किताब 'कैसे चंद लफ्जों में सारा प्यार लिखूं मैं' की, जिसका विमोचन पिछले... Continue Reading →

A WordPress.com Website.

Up ↑