माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी – हिन्दी लोकगीत

माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२ प्यारी सी जच्चा सजन संग चली मेरी सासू के अरमान पूरे हुए, और चरुवे की घड़ी में लालन हुए मेरी प्यारी सासू को कंगन चाहिए-२ प्यारी सी जच्चा सजन संग चली. माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२ प्यारी सी जच्चा सजन संग चली मेरी जिठनी के अरमान... Continue Reading →

Advertisements

A WordPress.com Website.

Up ↑