प्रसिद्ध गीतकार कवि प्रदीप पर विशेष

ऐ मेरे वतन के लोगों जरा आँख में भर लो पानी जो शहीद हुए हैं उनकी जरा याद करो कुरबानी   मौत के साए में हर घर है, कब क्या होगा किसे खबर है बंद है खिड़की, बंद है द्वारे, बैठे हैं सब डर के मारे ~ चुपके चुपके रोनेवाले रखना छुपा के दिल के … पढ़ना जारी रखें प्रसिद्ध गीतकार कवि प्रदीप पर विशेष

Advertisements